Recent

Popular/hot-posts

हाल की पोस्ट

सभी देखें
नियमित रूप से यह साधना ५१ दिन तक करने पर महाकाली का अनुग्रह प्रत्यक्ष मिलता है।
दत्तप्रबोधिनी न्यासद्वारा यह माँ काली मन्त्र सभी प्रकार के दुःखों का निवारण कर अभीष्ट-सिद्धि प्रदान करता है।
स्तम्भनक्रिया बहुत प्राचिन विद्या - सिद्धि है। यह स्तम्भन विधी रहस्य है l
यह संजीवनी विद्या दैत्यगुरु शुक्राचार्यको ज्ञात थी l ईससे वे मरेहुऐ ईन्सानको पूर्नजीवीत किया करते थे !
सदाशिव पुरुष की महाशक्ति कमला
मातंग शिव की महाशक्ति मातंगी
एकवक्त्र महारुद्र की महाशक्ति बगलामुखी कृत्याशक्ति मारण, मोहन, उच्चाटन, कीलन, विद्वेषण में प्रयुक्त होने वाली है।
दुःख दारिद्रय शोक और मृत्यू की प्रधान देवता है भगवती धूमावती माँ l
दक्षिणामूर्तिकला भैरव की महाशक्ति त्रिपुर भैरवी
कबन्ध शिव की महाशक्ति छिन्नमस्ता